Uncategorized

कोलकाता नाइट राइडर्स वर्सेस मुंबई इंडियंस के मैच के दौरान रोहित शर्मा की फील्डिंग को लेकर काफी कन्फ्यूजन हुई

7Views

नई दिल्ली
कोलकाता नाइट राइडर्स वर्सेस मुंबई इंडियंस के मैच के दौरान रोहित शर्मा की फील्डिंग को लेकर काफी कन्फ्यूजन हुई। इस कन्फ्यूजन के चलते एमआई के कोच मार्क बाउचर अंपायरों से भी बहस करते नजर आए। हालांकि अंत में कप्तान हार्दिक पांड्या ने मामला संभाल लिया, मगर यह नजारा केकेआर वर्सेस एमआई मुकाबले का आकर्षण का केंद्र बना। बता दें, बारिश से बाधित इस मुकाबले में मुंबई इंडियंस को 18 रनों से हार का सामना करना पड़ा। इसी के साथ केकेआर  आईपीएल 2024 प्लेऑफ का टिकट हासिल करने वाली पहली टीम बन गई है।

हुआ यूं की, मुंबई इंडियंस ने इस मैच में टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला लिया था। एमआई की शुरुआती प्लेइंग XI का रोहित शर्मा हिस्सा नहीं थे। मैच के दौरान जब पीयूष चावला अपने कोटे के पूरे ओवर करने के बाद मैदान से बाहर आ गए तो रोहित शर्मा बतौर सब्स्टीट्यूट मैदान पर उतरे। कुछ देर बाद पीयूष चावला मैदान पर आए, मगर रोहित शर्मा बाहर नहीं गए। रोहित लगातार फील्डिंग करते हैं। रोहित के मैदान पर रहने की वजह इस बार नुवान तुषारा बने, रोहित इस बार उनके सब्स्टीट्यूट के रूप में मैदान पर थे।
 
हालांकि इसे लेकर अंपायर कन्फ्यूज हो गए। उन्हें समझ नहीं आया कि रोहित शर्मा बतौर सब्स्टीट्यूट फील्डर मैदान पर हैं या फिर इंपैक्ट प्लेयर के रूप में आए हैं। इस दौरान एमआई के कोच मार्क बाउचर को चौथे अंपायर से बहस करते हुआ भी देखा गया। अंत में हार्दिक पांड्या ने मामले को संभाला और रोहित शर्मा को बतौर इंपैक्ट प्लेयर मैदान पर उतारा। बता दें, जब तक फील्डिंग टीम अपने इंपैक्ट प्लेयर का ऐलान नहीं करती तब तक कोई भी खिलाड़ी बतौर सब्स्टीट्यूट फील्डर मैदान पर उतर सकता है।

कैसा रहा एमआई वर्सेस केकेआर मैच?
बारिश से बाधिक इस मुकाबले में टॉस हारकर पहले बैटिंग करने उतरी कोलकाता नाइट राइडर्स ने 7 विकेट के नुकसान पर 157 रन बोर्ड पर लगाए। मैच देरी से शुरू होने के कारण 4-4 ओवर की कटौती हुई। केकेआर के लिए वेंकटेश अय्यर ने 42 रनों की सर्वाधिक पारी खेली। इस स्कोर का पीछा करने उतरी एमआई की टीम को ईशान किशन और रोहित शर्मा ने तूफानी शुरुआत तो दी, मगर मिडिल ऑर्डर के फेल होने की वजह से टीम टारगेट तक नहीं पहुंच पाई। ईशान किशन के 40 और तिलक वर्मा के 17 गेंदों में 32 रन को छोड़कर कोई एमआई का बल्लेबाज छाप नहीं छोड़ पाया। मुंबई 16 ओवर में 139 रन ही बना पाई। केकेआर ने यह मैच 16 रनों से जीतकर प्लेऑफ का टिकट कटाया।

 

admin
the authoradmin