Latest Posts

Uncategorized

पढ़ाई करते समय संगीत सुनना फायदेमंद है?

8Views

कहते हैं कि पढ़ाई हमेशा शांत वातावरण में करनी चाहिए। इससे ध्‍यान भटकता नहीं है और कोई भी चीज बहुत जल्‍दी याद हो जाती है। लेकिन हमने ऐसे बहुत लोगों को देखा है, जो पढ़ते समय हमेशा म्‍यूजिक सुनते हैं। उन्हें देखकर लगता है कि आखिर चलते म्‍यूजिक में व्‍यक्ति दिमाग लगाकर पढ़ कैसे सकता है। ऐसे लोगों का मानना है कि जब तक म्‍यूजिक की आवाज उनके कानों में न गूंजे उनका पढ़ाई में मन नहीं लगता।

​इतना ही नहीं, इससे उनका ध्‍यान कहीं और नहीं भटकता। दिलचस्‍प बात तो यह है कि ऐसे लोग एग्जाम में अच्‍छा परफॉर्म भी कर लेते हैं। पर क्‍या पढ़ाई करने का यह तरीका सही है। कंटेंट क्रिएटर राजन सिंह ने अपने इंस्‍टाग्राम पर एक पोस्‍ट शेयर की है। इसमें उन्‍होंने बताया है कि पढ़ाई करने के दौरान म्‍यूजिक सुनना सही है या नहीं।

पढ़ाई करने के दौरान गाना सुनें या नहीं?

पढ़ाई करते समय न सुनें म्‍यूजिक

एक्‍सपर्ट का कहना है कि पढ़ाई के दौरान गाने सुनना गलत है। इससे आपकी याददाश्त पर दबाव पड़ सकता है। यह कुछ इस तरह है जैसे दो चैनल एक ही फ्रीक्वेंसी पर चल रहे हों। पढ़ाई और म्‍यूजिक टकराव पैदा करती हैं। इससे पढ़ाई से तो ध्‍यान भटकता ही है साथ ही कोई भी टॉपिक याद करना भी मुश्किल हो जाता है।

मूड को बेहतर बनाता है म्यूजिक

कैडाबम्स माइंड टॉक की क्लिनिकल साइकोलॉजिस्ट नेहा पाराशर ने इंडियन एक्‍सप्रेस को बताया कि “म्‍यूजिक सुनने से फोकस पर पॉजिटिव और नेगेटिव इफेक्‍ट दोनों पड़ सकते हैं। स्‍टडीज से पता चलता है कि म्‍यूजिक मूड को अच्‍छा करता है। हालांकि, वह सिंह की इस बात से सहमत हैं कि बहुत तेज़ म्‍यूजिक ध्यान भटका सकता है, इससे परफॉर्मेंस में कमी आती है।

क्‍लासिकल म्‍यूजिक का प्रभाव

एक्‍सपर्ट के मुताबिक, अगर आप बिना बोल वाला इंस्ट्रूमेंटल म्यूजिक सुन रहे हैं, तो इससे बहुत ज्‍यादा नुकसान नहीं होगा। पढ़ाई के दौरान इंस्ट्रूमेंटल म्‍यूजिक तनाव को कम करने के साथ ही एकाग्रता बढ़ाता है। इसे अक्‍सर माेजार्ट इफेक्‍ट के रूप में जाना जाता है। यह आपका ध्‍यान भटकाए बिना मानसिक सतर्कता में वृद्धि करता है।

स्‍टडी के दौरान संगीत सुनने के फायदे और नुकसान

– एक अनफैमिलियर म्‍यूजिक सुनने से मैथ्‍स और लैंग्‍वेज से जुड़े विषयों को पढ़ने में दिक्‍कत होती है। जबकि फैमिलियर म्‍यूजिक चिंता को कम करने के साथ ही परफॉर्मेंस में सुधार कर सकता है।

– म्‍यूजिक या संगीत सुनने से व्‍यक्ति के मूड में सुधार होने के अलावा अलगाव की भावनाएं कम हो जाती हैं। लेकिन जिन लोगों को काम में एकाग्रता चाहिए, यह उन लोगों को विचलित कर सकता है।

पढ़ाई के दौरान म्‍यूजिक सुनते वक्‍त ध्‍यान रखें ये बातें

​- बोल वाले म्यूजिक से बचें।
​- स्लो और इंस्ट्रूमेंटल म्यूजिक का चुनाव करें।
​- म्‍यूजिक की वॉल्यूम स्‍लो रखें।
​- ऐसा म्‍यूजिक सुनें, जिनके प्रति आपकी फीलिंग स्‍ट्रांग नहीं हैं।

​संगीत आपके मूड को बेहतर बना सकता है। लेकिन ध्‍यान रखें कि आप हमेशा एक स्‍टडी टूल के तौर पर इसका इस्‍तेमाल नहीं कर सकते। जहां तक हो, शांति के माहौल में ही पढ़ाई करने की कोशिश करें।
 

admin
the authoradmin