Latest Posts

सियासत

BJP में शामिल हुए अशोक चव्हाण, कांग्रेस से कल ही दिया था इस्तीफा

4Views

मुंबई
महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण बीजेपी में शामिल हो गए हैं. उन्होंने सोमवार को कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया था. चव्हाण ने बीजेपी में शामिल होने से पहले कहा कि आज से मैं अपना राजनीतिक जीवन दोबारा शुरू कर रहा हूं. इस दौरान मंच पर उपमुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस, बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष चन्द्रशेखर बावनकुले, मुंबई प्रदेश अध्यक्ष आशीष शेलार मौजूद रहे.

 क्या बोले अशोक चव्हाण?
चव्हाण ने कहा, हालांकि, मैंने आज किसी भी कांग्रेस विधायक को अपने साथ आने के लिए आमंत्रित नहीं किया है. इस दौरान चव्हाण से पूछा गया कि उन्होंने आज सत्य साईं बाबा की पूजा करते समय क्या मांगा. अशोक चव्हाण ने कहा कि मैं घर से निकलते वक्त हमेशा पूजा करता हूं. ये मेरी रोज की आदत है. अशोक चव्हाण ने कहा कि अच्छे काम के लिए बाहर जाते समय भगवान का आशीर्वाद लेना मेरी सामान्य आदत है.

बीजेपी भेजेगी राज्यसभा?
बीजेपी में शामिल होने के बाद अशोक चव्हाण को राज्यसभा भेजा जा सकता है. ABP माझा के अनुसार, चव्हाण की पार्टी में एंट्री के तुरंत बाद बीजेपी राज्यसभा उम्मीदवारों की लिस्ट जारी कर सकती है. हालांकि, अगर बीजेपी राज्यसभा चुनाव में चौथा उम्मीदवार उतारती है, तो अशोक चव्हाण गुट के कांग्रेस विधायकों द्वारा क्रॉस वोटिंग की संभावना अधिक है. कई कांग्रेस विधायकों ने अशोक चव्हाण को फोन किया और कहा कि हम आपके साथ हैं. लेकिन अब दलबदल कानून के कारण हम आपके साथ बीजेपी में शामिल नहीं हो सकते. सूत्रों ने जानकारी दी है कि इन कांग्रेस विधायकों ने अशोक चव्हाण से कहा कि हम सही समय पर आपके साथ आएंगे.

 भाजपा ने जिस तरह 10 जून, 2022 को राज्यसभा की एक अतिरिक्त सीट महाराष्ट्र में जीती थी। वैसा ही खेल एक बार फिर से दोहराया जा सकता है। अशोक चव्हाण को पार्टी में एंट्री कराना भी भाजपा के इसी प्लान का हिस्सा है। चर्चा है कि अशोक चव्हाण के बाद करीब एक दर्जन विधायक भी कांग्रेस का साथ छोड़ सकते हैं।

इसके अलावा अशोक चव्हाण को भाजपा से राज्यसभा उम्मीदवार बनाया जा सकता है। दरअसल ये दोनों ही बातें आपस में जुड़ी हुई हैं। राज्य में खाली हुई 6 राज्यसभा सीटों में से कुल 3 पर भाजपा जीतने की स्थिति में है। एक सीट वह शिंदे सेना और एक सीट अजित पवार के नेतृत्व वाली एनसीपी को देने पर राजी है। वहीं एक सीट पर कांग्रेस जीतने की स्थिति में है। भाजपा और अशोक चव्हाण का यही प्लान है कि कांग्रेस को मिलने जा रही उस एक सीट को भी जीत लिया जाए।

15 फरवरी नामांकन की आखिरी तारीख, आज ही होगा बड़ा ऐलान

राज्यसभा चुनाव के नामांकन के लिए 15 फरवरी की आखिरी तारीख है और उससे पहले ही आज अशोक चव्हाण एंट्री कर रहे हैं। राज्यसभा चुनाव के गणित की बात करें तो महाराष्ट्र में फिलहाल कुल 285 विधायक हैं। एक कैंडिडेट को जीत के लिए 42 वोटों की जरूरत होगी।  INDIA अलायंस की बात करें तो कांग्रेस के पास 44 विधायक हैं। शिवसेना उद्धव गुट के पास 16 और शरद पवार की पार्टी के पास 11 हैं। वहीं एनडीए की बात करें तो भाजपा के पास ही अकेले 104 विधायक हैं। शिंदे के पास 39 और अजित पवार के 44 एमएलए हैं।

क्यों फंस सकती है कांग्रेस, एक सीट जीतना भी होगा मुश्किल

अब गणित की बात करें तो भाजपा आसानी से 3 सीटें जीत जाएगी। इसके अलावा शिवसेना और एनसीपी एक-एक सीट जीतने की स्थिति में हैं। एक सीट कांग्रेस अपनी ही ताकत से पा सकती है। बस यहीं पर भाजपा और अशोक चव्हाण का गेम प्लान काम कर सकता है। भाजपा सूत्रों का कहना है कि पार्टी एक उम्मीदवार अधिक खड़ा सकती है और अशोक चव्हाण के समर्थक एक दर्जन विधायकों की क्रॉस वोटिंग से सफलता मिल सकती है। उद्धव और शरद पवार के भी कुछ विधायक दूसरे खेमे के उम्मीदवार को वोट कर सकते हैं।

admin
the authoradmin