Latest Posts

छत्तीसगढ़

ऑनलाइन कार बुकिंग का काम करने के नाम पर महिला 41 लाख की ठगी

3Views

भिलाई

हाउसिंग बोर्ड निवासी एक महिला को वर्क फ्राम होम का झांसा देकर उससे 41 लाख 21 हजार 869 रुपये की ठगी की गई है। आरोपितों ने घर बैठे ऑनलाइन कार बुकिंग का काम करने के नाम पर महिला को अपने झांसे में लिया और शुरुआत में उसे काम के बदले रुपये भी दिए। इस तरह से भरोसा जीतने के बाद आरोपितों ने महिला से अकाउंट नेगेटिव होने का झांसा देकर 64 बार में कुल 41 लाख 21 हजार 869 रुपये अपने खाते में जमा करवाकर उससे ठगी की। घटना की शिकायत पर जामुल पुलिस ने अज्ञात आरोपितों के खिलाफ धोखाधड़ी की धारा के तहत प्राथमिकी कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

पुलिस ने बताया कि औद्योगिक क्षेत्र हाउसिंग बोर्ड निवासी टीना आशीष जनबंधु नाम की महिला ने घटना की शिकायत की है। 18 दिसंबर 2023 को पीड़िता को मैरी शाह नाम की एक महिला ने टेलीग्राम पर मैसेज किया और उससे पूछा कि वो घर बैठे काम करके रुपये कमाना चाहती है?

पीड़िता ने इसके लिए हामी भरी तो महिला ने उससे कहा कि वो उसकी जानकारी अपने वरिष्ठ अधिकारियों को भेज रही है। इसके बाद उसके पास अनघा विश्वनाथ नाम की महिला का मैसेज आया और उसने उससे कहा कि उनकी कंपनी ऑनलाइन कैब बुक करने का काम करती है। पहले दिन ट्रायल के तौर पर उसे 28 कैब बुकिंग का काम दिया गया। जिसके बदले में पीड़िता को 976 रुपये का भुगतान भी किया गया।

इसके बाद अनघा विश्वनाथ नाम की महिला ने कहा कि यदि वो रोजाना 10 हजार रुपये लगाकर 84 बुकिंग करती है तो उसे सात हजार 651 रुपये मिलेंगे। पीड़िता ने 10 हजार रुपये जमा किया तो उसे लाभ का सात हजार 651 रुपये अतिरिक्त मिला।

इसके बाद पीड़िता को आरोपितों पर भरोसा हो गया। इसके बाद कार्तिक नायर और सकर (मलेशिया) नाम के लोगों ने भी पीड़िता से बात की। पहले लाभ मिलने के बाद पीड़िता ने ज्यादा राशि लगाकर काम करना शुरू किया तो उसका अकाउंट नेगेटिव कैटेगरी में दिखाने लगा।

इस पर आरोपितों ने कहा कि नेगेटिव अकाउंट को पाजिटिव में लाने के लिए रुपये जमा करने होंगे। आरोपितों पर भरोसा करके पीड़िता ने 64 बार में कुल 41 लाख 21 हजार 869 रुपये जमा कर दिया। इसके बाद पीड़िता का अकाउंट पाजिटिव में आ गया और उसमें लाभ समेत कुल 76 लाख 54 हजार 437 रुपये की राशि दिखने लगी।

पीड़िता ने अपने रुपये निकालने के लिए विड्राल फार्म भरा तो आरोपितों ने कहा कि यदि उसे रुपये निकालने हैं तो उसे पहले 15 लाख 30 हजार 887 रुपये जमा करने होंगे। इसके बाद पीड़िता को अहसास हुआ कि वो ठगी का शिकार हो गई है।

admin
the authoradmin