Latest Posts

Uncategorized

सात्विक.चिराग थाईलैंड ओपन के दूसरे दौर में, प्रणय हारे

5Views

सात्विक.चिराग थाईलैंड ओपन के दूसरे दौर में, प्रणय हारे

इटालियन ओपन से बाहर मेदवेदेव

हॉकी इंडिया ने कोचों को शिक्षित करने के उद्देश्य से लांच किया कोचिंग लेवल बेसिक कोर्स

बैंकॉक
 भारत के सात्विक साईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की जोड़ी थाईलैंड ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट में मलेशिया के नूर मोहम्मद अजरिन अयूब अजरिन और तान वी कियोंग को हराकर पुरूष युगल प्री क्वार्टर फाइनल में पहुंच गई जबकि एच एस प्रणय पहले दौर में हारकर बाहर हो गए। शीर्ष वरीयता प्राप्त भारतीय जोड़ी ने 34 मिनट में 21.13, 21.13 से जीत दर्ज की। अब उनका सामना चीन के शि हाओ नान और जेंग वेइ हान से होगा।

वहीं पांचवीं वरीयता प्राप्त प्रणय को हमवतन मेराबा लुवांग मेसनाम ने 21.19, 21.18 से हराया। अब मेराबा का सामना डेनमार्क के मैड्स क्रिस्टोफरसेन से होगा जिन्होंने भारत के किरण जॉर्ज को 21.15, 13.21, 21.17 से मात दी। महिला एकल में अष्मिता चालिहा ने इंडोनेशिया की एस्टर नुरूमी त्रि वार्दोयो को 19.21, 21.15, 21.14 से हराकर दूसरे दौर में जगह बनाई। अब उनका सामना शीर्ष वरीयता प्राप्त चीन की हान युइ से होगा। युइ ने भारत की मालविका बंसोड़ को 21.11, 21.10 से हराया। उन्नति हुड्डा भी पहले दौर में बेल्जियम की लियाने तान से 21.14, 14.21, 9.21 से हार गई।

इटालियन ओपन से बाहर मेदवेदेव

रोम
 गत चैम्पियन दूसरी वरीयता प्राप्त दानिल मेदवेदेव अमेरिका के टॉमी पॉल से 1.6, 4.6 से हारकर इटालियन ओपन टेनिस से बाहर हो गए। इससे पहले दस बार के चैम्पियन रफेल नडाल और शीर्ष रैंकिंग वाले नोवाक जोकोविच भी हारकर बाहर हो चुके हैं।

तीसरी वरीयता प्राप्त अलेक्जेंडर ज्वेरेव ने नुनो बोर्गेस को 6.2, 7.5 से हराया और अब वह टेलर फ्रिट्स से खेलेंगे। फ्रिट्ज ने ग्रिगोर दिमित्रोव को 6.2, 6.7, 6.1 से मात दी। अलेजांद्रो ताबिलो ने कारेन खाचानोव को 7.6, 7.6 से हराया। अब वह झांग झिझेन से खेलेंगे जिन्होंने थियागो मोंटेइरो को 7.6, 6.3 से मात दी।

पॉल का सामना दूसरे दौर में नडाल को हराने वाले सातवीं वरीयता प्राप्त हुबर्ट हुरकाज से होगा जिन्होंने सेबेस्टियन बाएज को 5.7, 7.6, 6.4 से हराया।

महिला वर्ग में शीर्ष वरीयता प्राप्त इगा स्वियातेक ने मेडिसन कीस को 6.1, 6.3 से हराकर अंतिम चार में जगह बनाई। अब उनका सामना तीसरी वरीयता प्राप्त कोको गॉफ से होगा जिन्होंने किंवेन झेंग को 7.6, 6.1 से हराया।

हॉकी इंडिया ने कोचों को शिक्षित करने के उद्देश्य से लांच किया कोचिंग लेवल बेसिक कोर्स

नई दिल्ली
 देश में हॉकी की सर्वोच्च संस्था हॉकी इंडिया ने  पूर्व खिलाड़ियों सहित कोचिंग करियर बनाने के इच्छुक व्यक्तियों के लिए कोचिंग लेवल बेसिक कोर्स शुरू करने की घोषणा की।

यह कोर्स हॉकी इंडिया कोचिंग एजुकेशन पाथवे डेवलपमेंट प्रोग्राम का हिस्सा है और इसका उद्देश्य इच्छुक कोचों को विकसित करना और शिक्षित करना है, जिससे उन्हें एफआईएच स्तर के कोचिंग पाठ्यक्रमों की ओर आगे बढ़ने के लिए एक मंच प्रदान किया जा सके।

कोचिंग लेवल बेसिक कोर्स 24 से 29 जून 2024 तक ऑनलाइन आयोजित होने वाला है और इसमें पांच बैच शामिल होंगे, प्रत्येक में 40 उम्मीदवार होंगे। पाठ्यक्रमों के ऑनलाइन प्रारूप और अनुसूची के बारे में विवरण चयनित प्रतिभागियों को सूचित किया जाएगा।

कोचिंग लेवल बेसिक कोर्स के लिए मुख्य बिंदु:

पात्रता मापदंड:

1. उम्मीदवारों को जिला, स्कूल या विश्वविद्यालय हॉकी टीम को कोचिंग देने का पूर्व अनुभव होना चाहिए, या उन्हें राष्ट्रीय स्तर पर खेलना चाहिए या कम से कम तीन वर्षों के लिए अखिल भारतीय अंतर विश्वविद्यालय स्तर पर प्रतिनिधित्व करना चाहिए।

2-अंग्रेजी भाषा में प्रवीणता – उम्मीदवारों को अंग्रेजी समझने और प्रभावी ढंग से संवाद करने में सक्षम होना चाहिए।

पाठ्यक्रम विशेष रूप से उन प्रशिक्षकों या संभावित प्रशिक्षकों के लिए डिज़ाइन किए गए हैं जिन्होंने पहले किसी हॉकी इंडिया स्तर 'बेसिक' और लेवल '1' कोचिंग कोर्स में भाग नहीं लिया है।

पाठ्यक्रम के समापन पर एक ऑनलाइन परीक्षा आयोजित की जाएगी। हॉकी इंडिया लेवल '1' कोचिंग कोर्स के लिए अर्हता प्राप्त करने के लिए इस परीक्षा को सफलतापूर्वक पूरा करना अनिवार्य है।

कोचिंग कोर्स लेवल बेसिक के लिए ऑनलाइन पंजीकरण 15 मई 2024 को सुबह 10:30 बजे शुरू हो गया है और 18 मई 2024 को दोपहर 3:00 बजे समाप्त होगा।

कोचिंग लेवल बेसिक कोर्स को लेकर हॉकी इंडिया के अध्यक्ष डॉ. दिलीप टिर्की ने कहा, यह पहल कोचों की अगली पीढ़ी के पोषण और भारत में हॉकी कोचिंग में उत्कृष्टता की संस्कृति को बढ़ावा देने की हमारी प्रतिबद्धता को रेखांकित करती है। हम पूर्व खिलाड़ियों का स्वागत करने के लिए विशेष रूप से उत्साहित हैं, जो कोचिंग भूमिकाओं में बदलाव के इच्छुक हैं, इन पाठ्यक्रमों के माध्यम से, हमारा लक्ष्य उन्हें अपने कोचिंग करियर में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए आवश्यक कौशल और ज्ञान से लैस करना है।

हॉकी इंडिया के महासचिव भोला नाथ सिंह ने कहा, हमारा मानना है कि हमारे खेल की निरंतर सफलता के लिए कोचिंग शिक्षा में निवेश करना महत्वपूर्ण है, और ये पाठ्यक्रम कोचों को उन उपकरणों के साथ सशक्त बनाने के लिए डिज़ाइन किए गए हैं जिनकी अगली पीढ़ी में हॉकी के प्रति जुनून को विकसित करने के लिए आवश्यकता है। हम सभी योग्य उम्मीदवारों को इस अवसर का लाभ उठाने और हमारे साथ इस समृद्ध यात्रा पर निकलने के लिए प्रोत्साहित करते हैं।''

 

साक्षी मलिक ने साथी पहलवान निशा दहिया का दिल्ली हवाई अड्डे पर किया स्वागत

नई दिल्ली
 पूर्व ओलंपिक पदक विजेता पहलवान साक्षी मलिक ने साथी पहलवान निशा दहिया का इस्तांबुल, तुर्किये से लौटने पर दिल्ली हवाई अड्डे पर स्वागत किया, जहां उन्होंने महिलाओं के 68 किग्रा वर्ग में पेरिस ओलंपिक कोटा हासिल किया था।

फेसबुक पर साक्षी ने आईजीआई हवाईअड्डे पर निशा के स्वागत की तस्वीरें पोस्ट कीं, जहां निशा का परिवार और उनके दोस्त भी मौजूद थे।

शुक्रवार को, निशा ने कुश्ती विश्व ओलंपिक क्वालीफायर के फाइनल में पहुंचने के बाद ओलंपिक कोटा हासिल किया और पेरिस के लिए उड़ान भरने वाली पांचवीं महिला पहलवान बन गईं।

सेमीफाइनल में चेक गणराज्य की एडेला हेंजलिकोवा को 7-4 से हराने से पहले, निशा ने राउंड ऑफ 16 में व्यक्तिगत तटस्थ एथलीट, अंडर-23 विश्व चैंपियनशिप की पूर्व रजत पदक विजेता अलीना शौचुक को 3-0 से हराया था।

निशा के अलावा, अमन सहरावत इस साल के टूर्नामेंट के अंतिम क्वालीफाइंग इवेंट में पेरिस के लिए जगह बनाने वाले एकमात्र पुरुष पहलवान थे। एशियाई चैंपियन और अंडर-23 विश्व चैंपियन अमन पुरुषों के 57 किग्रा फ्रीस्टाइल वर्ग में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे।
Also Read – उप्र में 17 मई से और बढ़ेगी गर्मी एवं उमस

अंतिम पंघाल (53 किग्रा), विनेश फोगट (50 किग्रा), अंशू मलिक (57 किग्रा) और रीतिका हुडा (76 किग्रा) अन्य महिला पहलवान हैं, जो पेरिस ओलंपिक में पदक जीतने की कोशिश में होंगी।

 

admin
the authoradmin