Latest Posts

छत्तीसगढ़

बायोमेट्रिक मशीन से ही होगी धान की खरीदी

22Views

राजनांदगांव.

जिले में समर्थन मूल्य पर धान की खरीदी तेजी से चल रही है और आज से जिले में बायोमेट्रिक मशीन का उपयोग खरीदी केन्द्रों में अनिवार्य कर दिया गया है। बायोमेट्रिक के माध्यम से किसानों के थम उनकी आंखों से बायोमेट्रिक किया जा रहा है ताकि किसान की सही पहचान हो सके और किसान अपना धान बेच सकें, जिले के धान खरीदी केन्द्रों में अब तक 23 हजार से अधिक किसानों ने धान बेचा है। लगभग पांच लाख क्विंटल से अधिक धान की बिक्री हो चुकी है।

धान खरीदी केन्द्रों में किसान धान बेचने पहुंच रहे हैं कुछ दिन पूर्व बिना बायोमेट्रिक मशीन के धान की खरीदी हो रही थी लेकिन आज से बायोमेट्रिक से धान खरीदी अनिवार्य कर दिया गया है ताकि किसानों की सही पहचान हो सके और कोई दूसरा व्यक्ति उस किसान के पर्चे में वहां धान ना बेच पाए। बायोमेट्रिक का उपयोग हाथ के अंगूठे और आंखों से किया जा रहा है ताकि सही किसान की पहचान हो सके और वह टोकन लेकर अपना धान समर्थन मूल्य पर संबंधित धान खरीदी मे अपनी उपज बेच सके। प्रदेश में एक नवंबर से समर्थन मूल्य पर धान की खरीदी शुरू हो गई है दीपावली त्यौहार के कारण खरीदी धीमी गति से चल रही थी,, लेकिन त्यौहार खत्म होते ही अब किसान अपनी उपज लेकर खरीदी केन्द्रों में पहुंच रहे हैं। जिले के धान खरीदी केन्द्रों में बायोमेट्रिक मशीन का उपयोग नहीं हो रहा था लेकिन आज से बायोमेट्रिक मशीन का उपयोग अनिवार्य कर दिया गया है जिससे समर्थन मूल्य पर धान खरीदी केन्द्रों में किसानों की पहचान करने में आसानी हो रही है।

admin
the authoradmin