Uncategorized

उच्च पुरीन आहार: यूरिक एसिड की वृद्धि कर सकता है

9Views

 ब्लड शुगर या ब्लड प्रेशर की तरह यूरिक एसिड बढ़ना एक गंभीर समस्या बनता जा रहा है जिससे बहुत से लोग पीड़ित रहते हैं। यूरिक एसिड एक गंदा पदार्थ होता है जो खून में होता है और यह उन खाद्य पदार्थों से बनता है जिनमें प्यूरीन तत्व की मात्रा अधिक होती है। वैसे तो यूरिक एसिड किडनी के जरिए शरीर से बाहर निकल जाता है लेकिन ऐसा नहीं होने से इसका लेवल बढ़ जाता है।

खून में यूरिक एसिड लेवल बढ़ने से यह क्रिस्टल यानी छोटी पथरी का रूप ले लेता है और जोड़ों में जाकर इकठ्ठा हो जाता है। यहीं से असली स्वास्थ्य समस्याएं शुरू होती हैं। यह छोटी पथरियां गठिया की जोड़ों की दर्दनाक समस्या गाउट और किडनी की पथरी की वजह बनती हैं।

यूरिक एसिड से बचने के उपाय? इसका सीधा से उपाय यह है कि आपको प्यूरीन से भरपूर खाद्य पदार्थों से तौबा कर लेनी चाहिए। आयुर्वेद डॉक्टर निजिला एचआर आपको बता रही हैं कि वो कौन-कौन सी चीजें हैं जिनमें प्यूरीन ज्यादा पाया जाता है और आपको स्वस्थ रहने के लिए किन कम प्यूरीन वाले खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए।

सीफूड्स

बेशक मछली खाना सेहत के लिए फायदेमंद है लेकिन अगर आपका यूरिक एसिड बढ़ा हुआ है या आप गाउट की समस्या से जूझ रहे हैं, तो आपको मालूम होना चाहिए कि कुछ सीफूड्स खून में यूरिक एसिड का लेवल बढ़ा सकते हैं, वास्तव में एंकोवीज़, कॉडफ़िश, हैडॉक, हेरिंग, मैकेरल, मसल्स, सार्डिन, स्कैलप्स और ट्राउट आदि में प्यूरीन की अधिक मात्रा होती है।

यूरिक एसिड बढ़ाने वाले फूड्स
​​
उड़द दाल

वैसे तो उड़द की दाल प्रोटीन, विटामिन और विभिन्न मिनरल्स का एक बढ़िया स्रोत है, लेकिन यूरिक एसिड से पीड़ित लोगों को इसे खाने की सलाह नहीं दी जाती है। इसमें प्यूरीन की अधिक मात्रा होती है जिसे वजह से यह यूरिक एसिड लेवल और ज्यादा बढ़ा सकता है।

कुलथी दाल

गठिया से पीड़ित होने पर, कुलथी दाल और अन्य दालें खाने से बचें क्योंकि इनमें प्यूरीन की अधिक मात्रा होती है, जो जो आपके जोड़ों के आसपास यूरिक एसिड लेवल को और ज्यादा बढ़ा सकती है। दूसरी बात इनके सेवन से एसिडिटी का भी खतरा होता है।

शराब

बियर और अन्य तरह की शराब खून में यूरिक एसिड लेवल को बहुत अधिक बढ़ा सकते हैं। खासकर बियर सबसे ज्यादा यूरिक एसिड बढ़ाती है। इसमें अधिक मात्रा में प्यूरीन होता है, जिससे आपको गाउट की समस्या हो सकती है।

दही

दही खाना भला किसे पसंद नहीं है लेकिन इसके अधिक सेवन से यूरिक एसिड बढ़ने का भी जोखिम होता है। खासकर गाउट से पीड़ित लोगों को इसका सेवन नहीं करना चाहिए। ऐसा माना जाता है कि दही में मौजूद ट्रांस फैट यूरिक एसिड लेवल को बढ़ाने का काम करता है। इसके अलावा मूली और गन्ने को भी यूरिक एसिड बढ़ने का कारण माना जा सकता है।

इन चीजों से क्यों बढ़ता है यूरिक एसिड

डॉक्टर का मानना है कि ज्यादा मसालेदार, खट्टा, भारी और नमकीन चीजों के अधिक सेवन से यूरिक बढ़ने का खतरा होता है। ऊपर बताई चीजों में यह सब गुण पाए जाते हैं और यही वजह है कि गाउट के मरीजों को इन चीजों के सेवन से बचना चाहिए।

admin
the authoradmin