Latest Posts

मध्य प्रदेश

प्रदेश में 22 सितंबर से फिर तेज बारिश का दौर

19Views

भोपाल

मध्य प्रदेश में रिकॉर्ड तोड़ बारिश के बाद फिलहाल मौसम साफ है। भोपाल और दूसरे जिलों में धूप खिली है। बीच-बीच में बादल आ-जा रहे हैं। मौसम वैज्ञानिकों ने अगले तीन दिन 19 से 21 सितंबर तक धूप-छांव वाला मौसम रहने का अनुमान जताया है।

आज सिंगरौली, सीधी, रीवा, सतना, अनूपपुर, शहडोल, उमरिया, डिंडोरी, कटनी, जबलपुर, नरसिंहपुर, छिंदवाड़ा, सिवनी, मंडला और बालाघाट में हल्की बारिश का अनुमान है।

मौसम विभाग के अनुसार, 22 सितंबर से फिर बारिश का स्ट्रॉन्ग सिस्टम एक्टिव हो जाएगा। यह प्रदेशभर में बारिश कराएगा। 22 से 23 सितंबर के बीच भोपाल, ग्वालियर, चंबल, रीवा, इंदौर और उज्जैन संभाग के जिलों में भारी बारिश हो सकती है।

IMD भोपाल के सीनियर वैज्ञानिक डॉ. वेदप्रकाश सिंह ने बताया कि अगला सिस्टम भी बहुत स्ट्रॉन्ग है। इस कारण प्रदेश के जो 7 जिले अभी रेड जोन में हैं या फिर जहां सामान्य से कम बारिश हुई है, वहां भी तेज बारिश हो सकती है। वर्तमान में प्रदेश में सामान्य बारिश का ओवरऑल आंकड़ा 1% से भी कम है।

MP के पश्चिमी हिस्से में 3% अधिक बारिश

  • पिछले दिनों हुई अति भारी बारिश के चलते मध्यप्रदेश सूखे की स्थिति से बाहर निकल आया है। अब तक औसत 35.55 इंच बारिश हो चुकी है, जबकि 35.81 होनी चाहिए थी। पूर्वी हिस्से में 5% कम और पश्चिमी हिस्से में 3% अधिक बारिश हुई है।
  •     नरसिंहपुर में आंकड़ा 50 इंच से अधिक है। यहां सबसे अधिक बारिश हुई है।
  •     इंदौर, उज्जैन, धार, झाबुआ, अलीराजपुर, बड़वानी, बुरहानपुर, खंडवा, खरगोन, कटनी, रायसेन, छिंदवाड़ा, सिवनी, निवाड़ी, देवास, रतलाम, भिंड, श्योपुर, हरदा, बैतूल और अनूपपुर जिले में सामान्य से अधिक बारिश हो चुकी है।
  •     टीकमगढ़, जबलपुर, मंडला, डिंडोरी, शिवपुरी, सागर, आगर-मालवा, मुरैना और शहडोल जिले में सामान्य से 90% से अधिक बारिश हो चुकी है।
admin
the authoradmin