विदेश

रूस में इमारत ढहने से मरने वालों की संख्या बढ़कर 14 हुई

9Views

रूस में इमारत ढहने से मरने वालों की संख्या बढ़कर 14 हुई

सूडान के उत्तरी दारफुर में संघर्ष में 27 नागरिक मारे गए. संयुक्त राष्ट्र

ब्राज़ील में मृतकों की संख्या बढ़कर 143 हुई

मॉस्को,
रूस के बेलगोरोड में आवासीय इमारत के ढहने से मृतकों की संख्या बढ़कर 14 हो गई है। यह शहर यूक्रेन की सीमा से लगभग 40 किलोमीटर उत्तर में स्थित है।
आपातकालीन स्थिति मंत्रालय ने  यह जानकारी दी। स्थानीय मीडिया ने मंत्रालय के हवाले से कहा, “नौवां शव बेलगोरोड में इमारत के मलबे से मिला है।”

रिपोर्टों में कहा गया था कि बेलगोरोड में यूक्रेन के हमले के बाद 10 मंजिला आवासीय इमारत ढह जाने से 18 लोग लापता हो गए थे। जहां रविवार को बार-बार मिसाइल दागने की चेतावनी जारी की गई थी।

रूसी रक्षा मंत्रालय ने कहा कि वायु रक्षा प्रणाली ने पहले दिन यूक्रेन के छह टोचका-यू मिसाइलों, चार वैम्पायर रॉकेट और दो ओल्खा रॉकेटों को मार गिराया था।
मंत्रालय के अनुसार हवा में ध्वस्त की गयी टोचका-यू मिसाइल के टुकड़े बेलगोरोड में आवासीय इमारत में गिरने से दुर्घटना घटी।

 

सूडान के उत्तरी दारफुर में संघर्ष में 27 नागरिक मारे गए. संयुक्त राष्ट्र

खार्तूम
 सूडान में उत्तरी दारफुर की राजधानी एल फशर में सूडानी सशस्त्र बलों (एसएएफ) और रैपिड सपोर्ट फोर्सेज (आरएसएफ) के बीच संघर्ष में कम से कम 27 नागरिक मारे गए और लगभग 130 घायल हो गए है।संयुक्त राष्ट्र की एक एजेंसी ने  को यह जानकारी दी।

मानवीय मामलों के समन्वय के लिए संयुक्त राष्ट्र कार्यालय (ओसीएचए) ने अपनी नवीनतम रिपोर्ट में कहा, “अपुष्ट रिपोर्टों के मुताबिक संघर्ष में महिलाओं और बच्चों सहित कम से कम 27 लोग मारे गए हैं, जबकि लगभग 130 लोग घायल हुए हैं।”
रिपोर्ट में कहा गया है, “एल फ़ैशर साउथ हॉस्पिटल ने अपनी अधिकतम बिस्तरों की क्षमता को पार कर लिया है।इस अस्पताल की क्षमता 100 बिस्तरों की है।”
ओसीएचए ने इंटरनेशनल ऑर्गेनाइजेशन फॉर माइग्रेशन डिसप्लेसमेंट ट्रैकिंग मैट्रिक्स की एक रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि संघर्ष के कारण अनुमानित 850 लोग एल फशर इलाके में विभिन्न स्थानों पर विस्थापित हो गए हैं।

रिपोर्ट में कहा गया है कि कई हफ्तों से आरएसएफ हमले की तैयारी के लिए एल फशर के बाहरी इलाके में हजारों लड़ाकों को जुटा रहा है, जबकि एसएएफ और सहयोगी दारफुरी सशस्त्र समूहों ने एल फशर के प्रवेश द्वारों और शहर के अधिकांश इलाकों के आसपास अपनी सेना को तैनात किया है।
संयुक्त राष्ट्र ने पिछले सप्ताह चेतावनी दी थी कि एल फ़ैशर में लगभग 800,000 लोगों की जिंदगी खतरे में हैं क्योंकि हिंसा बढ़ रही है और पूरे दारफुर में ‘खूनी अंतर-सांप्रदायिक संघर्ष शुरू होने’ का खतरा है।

 

ब्राज़ील में मृतकों की संख्या बढ़कर 143 हुई

साओ पाउलो
 दक्षिण ब्राजील के रियो ग्रांडे डो सुल प्रांत में प्राकृतिक आपदा से मरने वालों की संख्या बढ़कर 143 हो गई है। जबकि 125 लोग अभी भी लापता हैं और तूफान से प्रभावित छह लाख से अधिक लोगों को बचाया गया है। नागरिक सुरक्षा एजेंसी ने  यह जानकारी दी।

दो सप्ताह की रिकॉर्ड बारिश के कारण पूरा राज्य बाढ़ और भूस्खलन की चपेट में है, 446 कस्बों में लोगों को बाढ़ के पानी से बचाया गया है जिनमें राज्य की राजधानी पोर्टो एलेग्रे भी शामिल है जहां गुएबा नदी के तटबंध टूट गए है और शहर का आधे से अधिक हिस्सा जलमग्न हो गया है।

गौरतलब है कि राज्य में 29 अप्रैल से लगातार बारिश शुरू हुई और भी जारी रही जिससे बाढ़ के पानी के कम होने की उम्मीदें धूमिल हो गईं है और विस्थापितों की संख्या  लगभग 441,000 से बढ़कर  618,550 हो गई।
राष्ट्रीय मौसम विज्ञान संस्थान ने ब्राजील के दक्षिणी राज्य में  और भारी बारिश होने का अनुमान जताया गया है। यह राज्य अर्जेंटीना और उरुग्वे की सीमा से सटा है।
गवर्नर एडुआर्डो लेइट ने कहा कि बाढ़ के बाद रियो ग्रांडे डो सुल के पुनर्निर्माण में लगभग 19 अरब रीसिस (3.7 अरब अमेरिकी डॉलर) लगेंगे।

 

 

admin
the authoradmin