Latest Posts

एसईसीएल में खान सुरक्षा महानिदेशालय पश्चिम अंचल के साथ कंपनी-स्तरीय द्विपक्षीय खान सुरक्षा बैठक सम्पन्न

6Views

बिलासपुर
एसईसीएल में खान सुरक्षा महानिदेशालय पश्चिम अंचल नागपुर, बिलासपुर एवं रायगढ़ क्षेत्र के अधिकारियों के साथ कंपनी स्तरीय द्विपक्षीय खान सुरक्षा बैठक का आयोजन किया गया। बैठक की अध्यक्षता रामावतार मीना, उप-महानिदेशक खान सुरक्षा, पश्चिमी अंचल, नागपुर द्वारा की गई। बैठक में खान सुरक्षा महानिदेशालय से वीर प्रताप, निदेशक खान सुरक्षा (रायगढ़ क्षेत्र), मुकेश कुमार सिन्हा, निदेशक खान सुरक्षा (बिलासपुर क्षेत्र झ्र क्रमांक 1), राजेश कुमार सिंह निदेशक खान सुरक्षा (बिलासपुर क्षेत्र झ्र क्रमांक 2), मनोज कुमार गुप्ता, निदेशक खान सुरक्षा (पश्चिमी अंचल, नागपुर), टी श्रीनिवास, निदेशक खान सुरक्षा (पश्चिमी अंचल, नागपुर), अरुण कुमार, उप निदेशक खान सुरक्षा (बिलासपुर क्षेत्र झ्र क्रमांक 2), बी भद्रू, उप-निदेशक खान सुरक्षा (बिलासपुर क्षेत्र झ्र क्रमांक 1), एवं एसईसीएल प्रबंधन से निदेशक तकनीकी (संचालन) एसएन कापरी, निदेशक (योजना/परियोजना) फ्रैंकलिन जयकुमार, मुख्यालय से सुरक्षा एवं बचाव विभाग सहित विभिन्न विभागाध्यक्ष, क्षेत्रीय महाप्रबंधकगण, अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित रहे।

बैठक का शुभारंभ सुरक्षा दीप प्रज्जवलन से हुआ उपरांत कोलइण्डिया कारपोरेट गीत बजाया गया। इसके पश्चात कार्य के दौरान वीरगति को प्राप्त करने वाले श्रमवीरों दो मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि दी गई एवं समस्त उपस्थितों द्वारा सुरक्षा शपथ लिया गया। बैठक में सभी आगन्तुकों का पुष्पगुच्छ से स्वागत किया गया। स्वागत सम्बोधन जीपी शर्मा महाप्रबंधक (खान सुरक्षा/बचाव) ने देते हुए सुरक्षा के सम्बन्ध में जानकारी उपलब्ध कराई। बैठक में पावरप्वाईंट के माध्यम से मुख्यालय एवं सभी संचालन क्षेत्रों में सुरक्षा को लेकर किए जा रहे उपायों के बारे में अतिथियों को अवगत कराया गया।

मुख्य अतिथि रामावतार मीना, उप-महानिदेशक खान सुरक्षा, पश्चिमी अंचल, नागपुर एवं सभी अतिथियों ने एसईसीएल में सुरक्षा को लेकर किए जा रहे उपायों की सराहना की साथ ही खदानों में सुरक्षा से जुड़े उपायों की समय-समय पर समीक्षा करने एवं खनिकों को सुरक्षा एवं बचाव के लिए दिए जाने वाले प्रशिक्षण पर जोर दिया। खदानों में नयी तकनीक पर जोर:- एसईसीएल प्रबंधन ने जानकारी दी कि भूमिगत खदानों में कामगार साथियों के आवावगमन की सुविधा के लिए मैन रायडिंग सिस्टम की व्यवस्था को बढ़ावा दिया जा रहा है। एसईसीएल में वर्तमान में 17 मैन राइडिंग सिस्टम लगाए जा चुके हैं। के खैरहा, विंध्या खदानों में 3 नए मैन रायडिंग सिस्टम लगाए जा रहे हैं, वहीं 5 अनुमोदन के स्तर पर हैं। मैन रायडिंग सिस्टम में कामगार साथी पैदल चलने के बजाए मैकेनाईज्ड परिवहन व्यवस्था से खदान के फेस के समीप तक पहुँच जाते हैं इससे उत्पादकता में बढ़ोत्तरी आती है।

कंपनी के द्वारा सुरक्षा जागरूकता की दिशा में किए जा रहे प्रयासों के नतीजन वर्ष 2023-24 में गंभीर दुर्घटनाओं की संख्या में 54 प्रतिशत से अधिक की कमी आई है वहीं जानलेवा दुर्घटनाओं में 25 प्रतिशत की कमी आई है।

admin
the authoradmin