मध्य प्रदेश

मतदान के बाद जनादेश ईवीएम में पहुंच गया, आठ-आठ घंटे निगरानी कर रहे कांग्रेसी

4Views

ग्वालियर
मतदान के बाद जनादेश ईवीएम में पहुंच गया है। ईवीएम में गिरे मतों की गिनती चार जून को होना है। ईवीएम एमएलबी कालेज में बनाए गये स्ट्रांग रूम में केंद्रीय बल की निगरानी में रखी गई हैं। कांग्रेस प्रत्याशी ने भी ईवीएम की निगरानी के लिए रात और दिन के लिए अपने कार्यकर्ताओं की ड्यूटी लगाई है। कार्यकर्ता एमएलबी कालेज में लगे टेंट में बैठकर स्ट्रांग रूम की निगरानी कर रहे हैं। स्ट्रांग रूम तक जाने की किसी को इजाजत नहीं है। जिला प्रशासन ने स्ट्रांग रूम की निगरानी के लिए सीसीटीवी कैमरे लगाए हैं। इन्ही कैमरों की स्क्रीन बाहर लगा रखी है।

इसी स्क्रीन के माध्यम से कांग्रेस कार्यकर्ता निगरानी कर रहे हैं। भाजपा प्रत्याशी ईवीएम की निगरानी को लेकर बेफिक्र नजर आ रहे हैं। ईवीएम की निगरानी के लिए कांग्रेस प्रत्याशी के समर्थक आठ-आठ घंटे की निगरानी कर रहे हैं। निगरानी के लिए दो-दो कार्यकर्ता एमएलबी पहुंचते हैं। निर्वाचन आयोग ने टीवी स्क्रीन के माध्यम से निगरानी करने की सुविधा प्रत्याशियों को उपलब्ध कराई है। यह व्यवस्था जिला प्रशासन ने आरोप-प्रत्यारोपों से बचने के लिए आयोग की सलाह पर की है और राउंड क्लाक आठ-आठ घंटे की निगरानी के लिए कार्यकर्ताओं को रहने की इजाजत दी है।

कलेक्टर ने ईवीएम स्ट्रांग रूम का किया निरीक्षण
एमएलबी कालेज पहुंचकर कलेक्टर रुचिका चौहान ने ईवीएम स्ट्रांग रूम का निरीक्षण किया। साथ ही मतगणना की तैयारियों को लेकर बैठक की। इसमें उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया है कि मतगणना के लिए सौंपे गए दायित्वों को समय सीमा में पूरा कर लें। बैठक में पुलिस अधीक्षक धर्मवीर सिंह, नगर निगम आयुक्त हर्ष सिंह, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत विवेक कुमार, एडीएम टीएन सिंह सहित सभी एआरओ एवं विभागीय अधिकारी उपस्थित थे। कलेक्टर चौहान ने लोक निर्माण के विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया है कि मतगणना के लिए निर्धारित सभी कक्ष 25 मई तक तैयार करें।

इसके साथ ही नगर निगम आयुक्त से कहा कि एमएलबी कालेज की सफाई, पेयजल व्यवस्था, अग्नि सुरक्षा की व्यवस्थाएं सुनिश्चित करें। बैठक में पुलिस अधीक्षक धर्मवीर सिंह द्वारा मतगणना स्थल पर सुरक्षा व्यवस्था, पार्किंग व्यवस्था के संबंध में आवश्यक व्यवस्थाएं करने को कहा गया। कलेक्टर चौहान ने मतगणना कार्य में लगे कर्मचारियों को निर्धारित समय सीमा में प्रशिक्षण के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए। मुख्य कार्यपालन अधिकारी विवेक कुमार ने मतगणना के संबंध में विस्तार से जानकारी दी।

admin
the authoradmin