Latest Posts

छत्तीसगढ़

कमीशनिंग के बाद एफबीडब्ल्यूपी से 16 रेक भेजे गए

7Views

भिलाई
सेल-भिलाई इस्पात संयंत्र ने वर्तमान वित्त वर्ष 2024-25 में साबरमती स्थित अपने फ्लैश बट वेल्डिंग प्लांट (एफबीडब्ल्यूपी) से 260 मीटर वेल्डेड रेल पैनल के अब तक 4 रेक भारतीय रेलवे को भेजे हैं। इसके अंतर्गत अप्रैल 2024 में भेजे गए दो रेक और मई 2024 में अब तक भेजे गए दो रेक शामिल हैं।पिछले वित्तीय वर्ष 2023-24 में एफबीडब्ल्यूपी, साबरमती से 260 मीटर वेल्डेड रेल पैनल के 12 रेक भारतीय रेलवे को भेजे गए थे।

वर्तमान वित्तीय वर्ष में भेजे गए चार रेक मिलाकर अब तक एफबीडब्ल्यूपी, साबरमती से भारतीय रेलवे को कुल 16 रेक भेजा गया है। उल्लेखनीय है कि भिलाई इस्पात संयंत्र और सेल की रिसर्च विंग रांची आरडीसीआईएस की कई टीमों ने साबरमती में एफबीडब्ल्यूपी को प्रारंभ करने के लिए कई चुनौतियों का सामना किया। सेल की मार्केटिंग विंग, सीएमओ ने भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। साबरमती प्लांट से 260 मीटर वेल्डेड रेल पैनल की पहली रेक 6 नवंबर 2023 को भेजी गई थी।

एफबीडब्ल्यूपी, साबरमती में वेल्डिंग के लिए इनपुट रेल की आपूर्ति भिलाई इस्पात संयंत्र के रेल एंड स्ट्रक्चरल मिल से 26 मीटर लंबाई में की जा रही है। साबरमती स्थित एफबीडब्ल्यूपी के उपयोग से भिलाई इस्पात संयंत्र को 260 मीटर लांग रेल की आपूर्ति की बढ़ाने में मदद मिली है। भिलाई इस्पात संयंत्र के निदेशक प्रभारी अनिर्बान दासगुप्ता और संयंत्र के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने साबरमती वेल्डिंग प्लांट के प्रचालन और मेंटेनेंस की पूरी टीम को बधाई दी है।

admin
the authoradmin